-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

सार्वजनिक जगधात्री पूजा समिति के कार्यक्रम में बोले मंत्री चंपई सोरेन सामाजिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने से ही समाज का विकास संभव Development of society is possible only by strengthening the social system


 गम्हरिया(Gamharia) : राज्य के आदिवासी कल्याण सह परिवहन मंत्री चंपई सोरेन ने कहा कि सामाजिक व्यवस्था को सुदृढ़ करने से ही समाज का विकास होगा। इसके लिए हर व्यक्ति को आगे आना होगा। समाज को नशे से दूर कर हर बच्चे को शिक्षा और संस्कार से जोड़ना होगा। शिक्षा और संस्कार से सामाजिक व्यवस्था मजबूत होगी। बड़े-बुजुर्गों का आदर होगा। राज्य का विकास होगा। मंगलवार को गंजिया बराज मैदान में सार्वजनिक जगधात्री पूजा समिति के तत्वावधान में नूवागढ़ एवं यशपुर पंचायत के ग्रामीणों की बैठक को संबोधित करते हुए सोरेन ने कहा कि आज जुआ और नशे के कारण समाज का सर्वनाश हो रहा है। इसका जिम्मेवार भी हम सभी अभिभावक हैं, जो अपने बच्चों को इस गर्त में जाने से नहीं रोक पा रहे हैं। कहा कि समाज में बिक रहे ब्राउन शुगर, दारू, हड़िया आदि पर प्रतिबंध लगाने के लिए समाज को जागरूक होना होगा और शिक्षा के प्रति समर्पित होकर बच्चों को जोड़ना होगा। राज्य सरकार ने शिक्षा के विकास पर करोड़ों खर्च कर छात्र-छात्राओं को काफी सुविधा प्रदान कर रही है। इसके लिए गुरुजी स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड सरकार ने लागू किया है। कहा कि आप अपने मैट्रिक पास बच्चों को डॉक्टर-इंजीनियर बनाइए, आपको बिना गारंटी के इस कार्ड पर बैंक ऋण देगा। मंत्री ने कहा कि समाज के विनाश में बहुरूपियों का बड़ा हाथ होता है। यह समाज को तोड़कर विद्वेष पैदा करता है। विकास में बाधा उत्पन्न करता है। सामाजिक व्यवस्था को तोड़कर अपना उल्लू सीधा करता है। भोलेभाले ग्रामीणों को व्यवस्था के खिलाफ भड़काता है। उन्होंने ऐसे लोगों से दूर रहने एवं उसे समाज से खदेड़ने की अपील की। मंत्री ने कहा कि सरकार ने आदिवासी-मूलवासी और दलितों के लिए 50 वर्षों में ही पेंशन देने का निर्णय लिया है। अब प्रत्येक परिवार को कम से कम 2 हजार की राशि प्रतिमाह मिलेगी। उन्होंने गंजिया बराज से ग्रामीणों को सालों भर सिंचाई की व्यवस्था को सरकार का उत्कृष्ट प्रयास बताया और कहा कि अब क्षेत्र के किसानों को वर्षा का सहारा भी लेना पड़ेगा। इस अवसर पर 20 सूत्री अध्यक्ष छायाकांत गोराई ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए हेमंत सोरेन की सरकार प्रतिबद्ध है। इसके लिए नए साल में कई प्रमुख योजनाओं की घोषणा की गई है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने आठ लाख आवास को रद्द कर ग्रामीणों के साथ नाइंसाफी की, किंतु हेमंत सोरेन की सरकार ने हर जरूरतमंदों को आबुआ आवास से सुसज्जित करने का प्रण लिया। कहा कि टाटा स्टील ने ग्रामीणों के साथ घोर अन्याय किया और महज एक प्रतिशत स्थानीय आदिवासी-मूलवासियों को सुविधा प्रदान कर रही है।

शहीदों का भाजपा ने किया अपमान
इस अवसर पर गोराई ने कहा कि खरसावां में कृषि मेला लगाकर शहीदों को भाजपा ने अपमान किया है। खरसावां समेत पूरे जिले में जहां एक जनवरी को कोई भी आयोजन नहीं होता है, वहीं केंद्रीय कृषि मंत्री ने उसी स्थल पर मेला का आयोजन कर शहीदों को अपमान का कार्य किया है। जबकि मेला का आयोजन राज्य एवं देश के किसी भी दूसरे जिले में हो सकता था।

पिछड़ी जाति आवासीय विद्यालय का निरीक्षण
मंत्री सोरेन ने पिछड़ी जाति आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि इस वित्तीय वर्ष में विद्यालय का संचालन हो जायेगा। इस विद्यालय के खुलने से यह क्षेत्र शिक्षा में अव्वल हो जायेगा। यह कोल्हान क्षेत्र का पहला आवासीय विद्यालय होगा, जहां बच्चों को रहने, खाने और गुणवत्तायुक्त शिक्षा की निशुल्क व्यवस्था होगी। निरीक्षण के दौरान अभियंताओं को शीघ्र कार्य पूर्ण कर हैंड ओवर का निर्देश दिया।

ये थे उपस्थित
इस अवसर पर छाया कांत गोराई, राखो हरि गोराई, जगदीश महतो, धीरेन महतो,  सनत आचार्य, आप्त सचिव गुरु प्रसाद महतो, चंचल गोस्वामी, बीडी दास, दीपक नायक,  परमेश्वर प्रधान, मिथुन कुंभकार, मंगल मांझी समेत काफी संख्या में ग्रामीण उपस्थित थे।
Post a Comment

Post a Comment