-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

पुरुलिया में बच्चा चोर समझ कर ग्रामीणों ने बरेली से गंगासागर जा रहे तीन सन्तों की जमकर की पिटाई, 12 गिरफ्तार In Purulia, villagers beat three saints going from Bareilly to Gangasagar as child lifters, 12 arrested


पुरुलिया (प0 बंगाल) : गंगासागर तीर्थ यात्रा के लिए निकले उत्तर प्रदेश स्थित बरेली के तीन साधुओं को पुरुलिया के काशीपुर में बच्चा चोरी का आरोप लगाकर कुछ लोगों द्वारा बर्बरता के साथ पिटाई कर दी गई। इस मामले में स्थानीय पुलिस ने कुल 12 लोगों को गिरफ्तार किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, उत्तर प्रदेश के बरेली स्थित विसरतगंज सोमेश्वर धाम के मुरलीदास आश्रम के साधु सुनील गोस्वामी, मधुरनाथ गोस्वामी और प्रमोद नाथ गोस्वामी खाना बनाने वाले एक व्यक्ति को लेकर किराए के एक बोलेरो से गंगासागर की ओर रवाना हुए थे। रांची से वह बोलेरो जब पुरुलिया जिला अंतर्गत काशीपुर थाना क्षेत्र के गौरांगडी गांव के पास आया, वहां कुछ लोगों द्वारा उन संतों को दान में कुछ रुपए दिया गया। वशी, कुछ लोगों द्वारा सलाह दी गई कि नजदीक में ही एक ईंट का भट्टी है। वहां का मालिक उन्हें दान दे सकता है। उसके बाद संत आगे बढ़े और तीन बालिकाओं से हिंदी में ईंट भट्टी के बावत पूछताछ किया। भाषा नहीं समझने के कारण तीनो बच्चियां भयबश भाग खड़ी हुई और आसपास में अफवाह फैला दिया गया यह बच्चा चोर है। उसके बाद ग्रामीणों ने बीच सड़क पर बोलेरो रोककर उन संतो को लेकर पास ही स्थित काली मंदिर में चले गए और उनकी बेरहमी से पिटाई करना शुरू कर दिया। इस घटना का खबर फैलने   के बाद माहौल गर्म हो गया। शनिवार को पुरुलिया के सांसद और भाजपा के पश्चिम बंगाल प्रदेश महासचिव ज्योतिर्मय सिंह महतो काशीपुर पहुंचे और संतो से मुलाकात किया। इस दौरान उपस्थित भाजपा का समर्थकों द्वारा पिटाई के लिए संतो से माफी भी मांगी गई और संतो को यथापूर्वक सम्मानित किया। उसके बाद सांसद द्वारा स्थानीय लोगों से घटना की जानकारी ली गई। इस दौरान यह बात सामने आई कि काशीपुर थाना का एक सिविक वॉलिंटियर शेख अनवर द्वारा उन संतों पर बच्चा चोर का आरोप लगाकर ग्रामीणों को भरकाया था। उन्होंने इस घटना में शामिल सभी लोगों के साथ शेख अनवर की गिरफ्तारी की मांग किया। उन्होंने बताया कि तृणमूल कांग्रेस के कुछ लोगों ने यह बात फैल दिया कि संत भाजपा के लोग है और वे बच्चा चोर है। इस घटना को लेकर सिविक वॉलिंटियर शेख अनवर के साथ बातचीत करने के प्रयास करने के बावजूद बात करना संभव नहीं हुआ। इस घटना के बाद पुरुलिया के एसपी अभिजीत बनर्जी ने बताया पुलिस ने इस घटना को लेकर अब तक कुल 12 लोगों को गिरफ्तार किया है। शनिवार को पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के साथ इन संतों के वाहन को एस्कॉर्ट कर गंगासागर की ओर रवाना किया। संतो के वाहन के साथ सांसद ज्योर्तिमय सिंह महतो का वाहन भी शामिल था।
Post a Comment

Post a Comment