Breaking News

कांड्रा और गम्हरिया में आयोजित महाप्रभु की रथयात्रा में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़ Crowd of devotees gathered in Mahaprabhu's Rath Yatra organized in Kandra and Gamharia

गम्हरिया : जगन्नाथ मंदिर समिति, मांझपाड़ा, बड़ा गम्हरिया की ओर से बस्ती स्थित जगन्नाथ मंदिर से महाप्रभु जगन्नाथपुर की भव्य रथयात्रा निकाली गई। इससे पूर्व मन्दिर के पुजारी जगन्नाथ दास द्वारा पारंपरिक विधि विधान से महाप्रभु जगन्नाथ, भगवान बलभद्र और बहन सुभद्रा की विधिवत पूजा अर्चना की गई। तत्पश्चात, उन्हें भव्य रूप में सजाए गए रथ पर सवार कर मौसीबाड़ी के लिए विदा किया। वहां वे नौ दिनों तक विश्राम करने के बाद आगामी 15 जुलाई को फिर उल्टी रथ पर सवार होकर अपने घर वापस लौटेंगे। मौसी बाड़ी जाने से पूर्व रविवार को महाप्रभु को नगर भ्रमण कराया गया। इस दौरान उनके रथ को खींचने के लिए भक्त श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी। नगर भ्रमण के क्रम में कई जगहों पर रोककर महिला श्रद्धालुओं द्वारा उनकी आरती उतारकर पूजा-अर्चना की गई। इस दौरान महाप्रभु की पूजा अर्चना कर क्षेत्रवासियों के सुख, शान्ति व समृद्धि की कामना की गई। रविवार को बड़ा गम्हरिया स्थित मंदिर में ही रात्रि विश्राम कराया गया। वहां से सोमवार को उन्हें मौसीबाड़ी पहुंचाया जाएगा।  नगर भ्रमण के दौरान कीर्तन मंडली द्वारा भजन-कीर्तन भी किया गया। इसके आयोजन में मन्दिर समिति के अध्यक्ष जगन्नाथ कुंडू, उपाध्यक्ष सीताराम बेज, सचिव अरुण बेज, कोषाध्यक्ष प्रेम चंद्र पाल, गोपाल चौधरी, वरुण दास, संजय मन्डल, संजय दास, भैरव प्रामाणिक, दीपक नायक, दिलीप गोराई समेत सभी सदस्यों का प्रमुख योगदान रहा। वहीं, कांड्रा में भी महाप्रभु जगन्नाथ की रथयात्रा निकाली गई। इस रथयात्रा में भक्त श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी थी। इस मौके पर बहन सुभद्रा व भाई बलराम के साथ महाप्रभु जगन्नाथ को रथ पर सवार कर नगर भ्रमण कराया गया जो बानाडूंगरी जगन्नाथ मंदिर पहुंचकर सम्पन्न हुआ। इस मौके पर पश्चिम बंगाल से आए 11 कीर्तन मंडली के सदस्यों ने नाचते गाते भगवान जगन्नाथ की यात्रा निकाली।

0 Comments

Fashion

Type and hit Enter to search

Close