Breaking News

पुरेन्द्र करेंगे आवास बोर्ड अंतर्गत पुराने व जर्जर अयोग्य फ्लैट्स के विरुद्ध किए जा रहे सर्वे पर रोक लगाने की सीएम से मांग Purendra will demand from the CM to stop the survey being conducted against old and dilapidated unfit flats under the Housing Board

अदित्यपुर : आवास बोर्ड अंतर्गत पुराने व जर्जर अयोग्य फ्लैट्स के आवासन हेतु अयोग्य घोषित वीकर सेक्शन फ्लैट्स डब्ल्यू टाईप के विरुद्ध किए जा रहे सर्वे पर तत्काल रोक लगाते हुए की जा रही संपूर्ण कार्रवाई को रद्द करने की मांग को लेकर डब्ल्यू टाइप संघर्ष समिति का एक प्रतिनिधिमंडल आदित्यपुर नगर परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष पुरेंद्र नारायण सिंह एवं पूर्व पार्षद रंजन सिंह के नेतृत्व में मुख्यमंत्री चंपई सोरेन से मिलकर ज्ञापन सौंपेगा। पुरेंद्र नारायण सिंह ने कहा कि नगर विकास एवं आवास विभाग की अधिसूचना संख्या-2652, दिनांक 28.10.2020 के आलोक में निजी एजेंसी के माध्यम से आवास बोर्ड अंतर्गत पुराने/जर्जर एवं आवासन हेतु अयोग्य घोषित रेंटल फ्लैट्स, वीकर सेक्शन फ्लैट्स, स्लम तथा जनता फ्लैट का सर्वे कराया जा रहा है, जो कि जन विरोधी, अनुचित और सरकारी राजस्व की बर्बादी प्रतीत हो रही है। इस कारण यहां रह रहे निवासियों में भय और दहशत का माहौल व्याप्त है और उनके उपर अपने सिर से छत छीन जाने की चिन्ता सताने लगी है। क्योंकि सर्वे कराने वाली एजेंसी के प्रतिनिधियों के द्वारा किए जा रहे सर्वे के क्रम में यह बताया जा रहा है कि पुराने, जर्जर और आवासन हेतु अयोग्य घोषित रेंटल फ्लैट्स को ध्वस्त कर वहाँ नए फ्लैट्स का निर्माण कराया जाएगा।
ज्ञात हो कि आवास बोर्ड द्वारा पुराना/जर्जर घोषित वीकर सेक्शन वाला डब्ल्यू टाईप फ्लैट्स आवास बोर्ड, जमशेदपुर प्रमंडल कार्यालय के ठीक सामने स्थित है। डब्ल्यू टाईप में कुल 108 फ्लैट्स हैं, जिसमें फ्लैट्स के आवंटी सपरिवार निवास करते हैं तथा उनके द्वारा नियमित रुप से निर्धारित मासिक किराये का भुगतान भी किया जाता है। साथ ही, उनके द्वारा समय-समय पर आपसी सहयोग तथा निजी खर्चे से पुराने और जर्जर हो चुके उक्त फ्लैट्स की मरम्मत और रख-रखाव का काम भी कराया जाता है। परन्तु विभाग द्वारा कराए जा रहे सर्वे के बाद डब्ल्यू टाईप फ्लैट्स में निवास करने वाले लोग भयभीत हैं तथा सभी लोग अब अपने लोकप्रिय विधायक सह राज्य के मुख्यमंत्री से राहत की उम्मीद कर रहे हैं। शुक्रवार को डब्ल्यू टाइप निवासियों की पूर्व पार्षद रंजन सिंह की अध्यक्षता में आयोजित एक बैठक को संबोधित करते हुए पुरेंद्र नारायण सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री से मिलकर वे नगर विकास एवं आवास विभाग की अधिसूचना संख्या-2652, दिनांक 28.10.2020 के आलोक में पुराने/जर्जर एवं आवासन हेतु अयोग्य घोषित आदित्यपुर-1 स्थित वीकर सेक्शन फ्लैट्स डब्ल्यू टाईप फ्लैट्स में निजी एजेंसी के द्वारा किए जा रहे सर्वे के काम पर तत्काल रोक लगाते हुए की जा रही संपूर्ण कार्रवाई को रद्द करने की मांग करेंगे। साथ हीं डब्ल्यू टाईप फ्लैट्स में आवासित परिवारों के नाम से संबंधित फ्लैट को भाड़ा सह क्रय के आधार पर आवंटित करने की कार्रवाई सुनिश्चित करने की भी मांग करेंगे l

0 Comments

Fashion

Type and hit Enter to search

Close