-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

पत्रकार अपने उद्धेश्य के प्रति डटे रहें तभी वे निष्पक्ष कहे जायेंगे : सरयू राय Only when journalists stick to their objective will they be called impartial


मिडिया लोगों को जागरूक करने का एक सशक्त माध्यम: निर्वाचन अधिकारी
रांची (संवाददाता) : झारखंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन(जेजेए) की नयी प्रदेश कमेटी का रविवार को झारखंड विधानसभा सभागार में आयोजित समारोह में मुख्य वक्ता विधायक सरयू राय ने नव नियुक्त प्रदेश अध्यक्ष संपूर्णानंद भारती, प्रदेश महासचिव अभय लाभ सहित कमेटी के सभी पदधारियों को माला पहनाकर एवं बुके प्रदान कर स्वागत किया। इस मौके पर एसोसिएशन के प्रदेश प्रभारी एवं पत्रकार चंदन मिश्रा, वरिष्ठ पत्रकार श्याम किशोर चौबे, जेजेए संस्थापक शहनवाज हसन, निर्वाचन आयोग के अधिकारी संजय पाण्डेय समेत बड़ी संख्या में पत्रकार उपस्थित थे। इस अवसर पर 'भारतीय लोकतंत्र में निष्पक्ष चुनाव में मीडिया की भूमिका' पर सेमिनार का आयोजन भी किया गया। सेमिनार को संबोधित करते हुए विधायक सरयू राय ने कहा कि चुनाव में पक्ष एवं विपक्ष की अपनी अपनी भूमिका होती है। मीडिया प्रबंधन के लिए राजनीतिक दल में भी टीम बन गयी है।अब किसी भी क्षेत्र में निष्पक्षता नहीं होती। ऐसे में पत्रकारिता और पत्रकार की निष्पक्षता कैसे बरकरार रहे, इस पर विशेष ध्यान देने की जरुरत है। यथार्थ का धरातल बदलता रहता है। विधायक सरयू राय ने कहा कि कोई भी पत्रकार या व्यक्ति अपने सिद्धांत पर कायम रहे तो इसे निष्पक्षता कहेंगे। पत्रकार अपने उद्धेश्य के प्रति डटे रहे तभी वे निष्पक्ष कहे जायेंगे। उन्होंने कहा कि समाज बदला है, उद्धेश्य भी बदली है। श्री राय ने कहा कि आज भी प्रिंट मीडिया का महत्व बना हुआ है। झारखंड में पत्रकारों की सुरक्षा के अनुरुप कार्य होना चाहिए। लेकिन राज्य में सत्ता का मिजाज बदल गया है। तानाशाही का रुप बढ़ा है। उन्होंने कहा कि अपनी आलोचना सुनते नहीं है।


झारखंड राज्य निर्वाचन आयोग के सह पदाधिकारी संजय पांडेय ने मीडिया की भूमिका को लेकर विस्तार से जानकारी दी। श्री पांडेय ने कहा कि सूचना के इस युग में आज हमें अपडेट रहने की जरूरत है। निर्वाचन आयोग द्वारा इसके लिए सभी जानकारी ऑनलाइन उपलब्ध कराई है। उन्होंने कहा कि मीडिया की भूमिका काफ़ी महत्वपूर्ण है, क्योंकि आज भी आम आदमी अखबार में प्रकाशित खबर को विश्वास करता है। मिडिया लोगों को अपने अधिकारों को जागरूक करने का एक सशक्त माध्यम है। उन्होंने कहा कि आज सलाह भी कोई देता है तो उसे भी आलोचना समझते हैं। सेमिनार में वरिष्ठ पत्रकार श्याम किशोर चौबे ने भी निष्पक्षता पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि पत्रकारों को समाज में समानता के लिए सभी सुविधाएं चाहिए। देश के बहुत सारे मीडिया हाउस में पत्रकारों को काफी रुपया मिलता है, लेकिन यह सुविधा रांची अथवा झारखंड के अन्य जिलों में नहीं मिलती है। पत्रकारों के लिए चुनौतियां हैं। ऐसे में पत्रकार में निष्पक्षता नहीं हो सकता है। एसोसिएशन के प्रदेश प्रभारी एवं वरिष्ठ पत्रकार चंदन मिश्रा ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि अप्रैल 2024 में संसदीय चुनाव होना है। उसके बाद राज्य में विधान सभा चुनाव होगा। इसमें निष्पक्षता को लेकर मीडिया की जिम्मेवारी बनती है।
मंच का संचालन संगठन के संस्थापक सह राष्ट्रीय महासचिव शहनवाज हसन ने किया। उन्होंने संगठन की स्थापना से लेकर पिछले एक दशक में पत्रकारों के समक्ष आई समस्याओं और उसके निवारण के लिए संगठन के प्रयासों की विस्तृत जानकारी प्रदान की। अंत में धन्यवाद ज्ञापन प्रदेश अध्यक्ष संपूर्णानंद भारती ने दिया। उन्होंने सभी पत्रकारों को एकजूट होकर संगठन के लिए कार्य करने पर जोर दिया। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि संगठन बड़ा होता है, कोई भी व्यक्ति विशेष अथवा पदधारी नहीं। कहावत भी है कलयुग मे संघे शक्ति होता है। उन्होंने कहा कि संगठन  के लिए चंदन मिश्र, शहनवाज हसन एवं ललन पांडेय जी का काफी योगदान रहा है। आज यह वट वृक्ष का रुप ले लिया है। समारोह में आये पत्रकारों ने भी संगठन से संबंधित जानकारी प्राप्त किया। समारोह मे राज्य के सभी जिले से बड़ी संख्या मे पत्रकार उपस्थित थे।
Post a Comment

Post a Comment