-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

कोल्हान में श्रम कानूनों का हो रहा उल्लंघन, अधिकारी मौन- पुरेंद्र Labour laws are being violated in Kolhan, officers are silent - Purendra


आदित्यपुर : औद्योगिक प्रमंडल कोल्हान की औद्योगिक इकाइयों में कार्यरत मजदूरों के शोषण की खबरें लगातार मिल रही है। 90% औद्योगिक इकाइयों में कार्यरत मजदूरों को सरकार द्वारा निर्धारित न्यूनतम मजदूरी की सुविधा नहीं मिल पा रही है। साथ ही, हजारों मजदूरों को पीएफ, ईएसआई, लाभांश के आधार पर बोनस भी नहीं दिया जा रहा है। श्रम विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखकर इस आशय की जानकारी कई बार दी जा चुकी है, मगर कोई ठोस कार्रवाई नजर नहीं आ रही है। उक्त बातें एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए राजद के प्रदेश महासचिव सह पूर्वी सिंहभूम प्रभारी पुरेंद्र नारायण सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि एक-एक पदाधिकारी को कई जिलों का प्रभार दे दिया गया है। इस कारण मजदूर अपनी शिकायत लेकर कार्यालय जाते हैं, मगर पदाधिकारी से मुलाकात नहीं होने की स्थिति में मायूस होकर एक कार्यालय से दूसरे कार्यालय घूमते रहते हैं। किन्तु उनकी समस्याओं का निदान नहीं हो पा रहा है। उन्होंने कहा कि श्रम कानून को सख्ती से अनुपालन कराने में श्रम विभाग के पदाधिकारी रुचि नहीं ले रहे हैं, जिसके चलते सरकार की भी बदनामी हो रही है। उन्होंने कहा कि कोल्हान में लाखों- लाख की संख्या में मजदूर औद्योगिक इकाइयों में काम करते हैंl 90% औद्योगिक इकाइयों में कार्यरत मजदूरों को न्यूनतम मजदूरी तक नहीं मिल पाता है, मगर अधिकारी मौन रहते हैं। कहा कि वे शीघ्र ही मजदूर हितों की अनदेखी करने वाले श्रम अधिकारियों की जानकारी राज्य के मुख्यमंत्री, श्रम मंत्री व श्रम सचिव को पत्र लिखकर देंगे। संवाददाता सम्मेलन में पुरेंद्र नारायण के अलावे अधिवक्ता संजय कुमार, कुमार विपिन बिहारी प्रसाद, देव प्रकाश आदि भी उपस्थित थे।
Post a Comment

Post a Comment