-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

कार्य से हटाए गए जेएआरडीसीएल के मजदूरों ने झामयू के बैनर तले कांड्रा टॉल प्लाजा के समीप किया प्रदर्शन, धरना पर बैठे JARDCL workers removed from work demonstrated near Kandra Toll Plaza under the banner of JMU


गम्हरिया : विगत कई वर्षों से जेएआरडीसीएल के अधीन कार्य कर रहे  से मज़दूरों को पूर्व सूचना दिए बगैर काम से हटा दिए जाने से उनमें रोष व्याप्त है। इसके विरोध में झारखंड मजदूर यूनियन के बैनर तले मजदूरों ने सोमवार को कांड्रा मोड़ में प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद मजदूर यूनियन के जिलाध्यक्ष सुनील कुमार गोराई के नेतृत्व में वहां धरना पर बैठ गए। इस मौके पर गोराई ने बताया कि सड़क निर्माता कंपनी जेएआरडीसीएल के अधीन कार्यरत करीब 60 मजदूर विगत करीब सात वर्षों से कार्य कार्यरत थे और सफाई कार्य मे लगे थे। इन सभी आदिवासी मजदूरों को बिना सूचना दिए ही काम से निकाल दिया गया है जिससे उनके समक्ष बेरोजगारी और भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इसे हम कभी बर्दास्त नहीं किया जाएगा  यूनियन अध्यक्ष सुनील गोराई ने बताया कि जिले के डीसी को भी उक्त मामले से अवगत कराते हुए ज्ञापन सौंपा गया है। इसमें बताया गया है कि उन मजदूरों को कार्य से हटा दिए जाने के कारण टाटा-कांड्रा और चौका- सरायकेला-चाईबासा सड़क का सफाई कार्य भी ठप्प है जिससे मुख्य सड़क पर गंदगी का अंबार लग गयवहै। इससे वाहन चालक समेत राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस दौरान मुख्य रूप से जिला अध्यक्ष सुनील गोराई, महासचिव सन्त सिंह सरदार, कोषाध्यक्ष संजय मंडल, उपाध्यक्ष सुखदेव कुमार, रवि सिंह, विजय मुंडा, उषा बांडिया, अल्वीना सोय, मोटाय बानरा समेत सभी मजदूर उपस्थित थे।
Post a Comment

Post a Comment