-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा ने टाटा स्टील को सौंपा ज्ञापन Displaced Affected Sangharsh Morcha submitted memorandum to Tata Steel


गम्हरिया : विस्थापित प्रभावित संघर्ष मोर्चा की ओर से सोमवार को टाटा स्टील प्रबंधन को ज्ञापन सौंपकर आदिवासी-मूलवासी, विस्थापित व प्रभावितों की नियुक्ति करने की मांग किया है। मोर्चा के संयोजक छायाकांत गोराई एवं मुखिया मोहन बास्के के नेतृत्व में टीजीएस एवं टाटा स्टील के सीईओ सह प्रबंध निदेशक को सौंपे गए ज्ञापन में बताया है कि जमशेदपुर में टाटा की इकाइयों में टीजीएस, टीआरएफ, आईएसडब्ल्यूपी का टाटा स्टील के साथ विलय होने जा रहा है। ये संस्था टाटा स्टील लिमिटेड की छत्रछाया में काम करेंगे। इन कंपनियों के टाटा स्टील में एकीकरण से रोजगार के काफी अवसर उपलब्ध होंगे। बताया कि इसमें गैर झारखंडी कर्मचारियों की भर्ती से यहां के निवासियों में क्षोभ व्याप्त है। गैर झारखंडियों की भर्ती करते समय विस्थापितों और प्रभावित लोगों से बचना कंपनी का एक गुप्त उद्देश्य है। इससे गैर झारखंडियों की जनसंख्या कंपनी में तेजी से बढ़ रही है, जबकि जमशेदपुर टाउनशिप में झारखंडियों की आबादी में भारी कमी आई है। क्योंकि टाटा कंसर्न में केवल कुछ ही झारखंडी कर्मचारी काम कर रहे हैं।  ज्ञापन में आगामी पांच जनवरी से पूर्व इन मांगों पर विचार करने की मांग की गई है।
Post a Comment

Post a Comment