-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

एलपीजी के प्रतिनिधि घर घर जाकर करेगें सुरक्षा मानकों की जांच LPG representatives will go door to door to check safety standards


सुरक्षा को जीरो प्रतिशत टॉलरेंस रखने की हो रही है व्यवस्था
 गम्हरिया : सुरक्षा के हर मापदंडों पर खरा उतरने के लिए एलपीजी कंपनी के प्रतिनिधि  उपभोक्ताओं के घरों में दस्तक देगी। इसके तहत डीलर के प्रतिनिधि इंडेन के सभी उपभोक्ताओं के घर-घर जाकर सुरक्षा पाइप की जांच, चूल्हे की सफाई समेत अन्य किसी भी प्रकार की त्रुटि को दूर करेंगे। इंडियन ऑयल मार्केटिंग डिविजन के सीनियर सेल्स मैनेजर शकील अहमद ने यह जानकारी दी। इस मौके पर केपी इंडेन के संचालक केपी सोरेन समेत कई प्रतिनिधि उपस्थित थे। शनिवार को गम्हरिया स्थित केपी इंडेन परिसर में सुरक्षा के उपाय के संदर्भ में डीलर एवं ग्राहकों से जानकारी लेने पहुंचे अहमद ने कहा कि मानकों के अनुरूप चूल्हा, गैस पाइप आदि का उपयोग नहीं होने का कारण भी दुर्घटना होती है। कहा कि पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक मंत्रालय के दिशा निर्देश के आलोक में सुरक्षा को जीरो प्रतिशत टॉलरेंस रखने की व्यवस्था की जा रही है। उन्होंने कहा कि इंडियन ऑयल एवं स्थानीय डीलर के संयुक्त प्रतिनिधियों की ओर से आदित्यपुर एवं गम्हरिया क्षेत्र के उपभोक्ताओं के घर जाकर गैस सुरक्षा पाइप, चूल्हा एवं कनेक्शन आदि की जांच करेगी। इसके साथ ही उपयोग होने वाले चूल्हा, गैस पाइप आदि मानकों के अनुरूप है की नहीं, उसकी जांच भी करेंगे। उन्होंने बताया कि विगत वर्ष 2014 से किसी कारणवश यह अभियान रुका हुआ था। वर्तमान में एक बार फिर इस अभियान को युद्ध स्तर पर शुरू किया गया है। बताया कि गैस सुरक्षा पाइप की आयु महज पांच साल होती है। जबकि ऐसी सूचना भी मिली है कि कुछ उपभोक्ताओं की ओर से बाजार से ऑर्डेनरी पाइप खरीद कर सुरक्षा पाइप के रूप में इस्तेमाल करते हैं, जो काफी जोखिम भरा है।  इससे कभी भी दुर्घटनाएं हो सकती है। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं की सुविधा एवं सुरक्षा को मद्देनजर 30 नवंबर तक सुरक्षा पाइप की कीमत को 190 से 155 रुपए कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि आदित्यपुर एवं गम्हरिया क्षेत्र में काफी संख्या में ग्रामीण उपभोक्ताओं हैं, जिन्हे यह जानकारी होना जरूरी है। इसके लिए पहचान पत्र के साथ  जांचकर्मी उपभोक्ताओं के घरों में दस्तक देंगे। गैस सुरक्षा पाइप की बदली, चूल्हे की सफाई एवं मरम्मत समेत गैस रिसाव से संबंधित पूरी जानकारी से अवगत कराएंगे। इस एवज में दो सौ रूपये एवं 18 प्रतिशत जीएसटी चार्ज लेकर उपभोक्ताओं को रसीद दी जाएगी। बताया कि उज्जवला योजना के उपभोक्ताओं के लिए यह राशि 59 रुपए रखी गई है।
Post a Comment

Post a Comment