-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा कर डीसी ने दिए कई निर्देश DC gave many instructions after reviewing the health department


सरायकेला : जिला समाहरणालय सभागार मे उपायुक्त रविशंकर शुक्ला द्वारा बैठक कर स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा की गई. इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन अंतर्गत संचालित सभी कार्यक्रमों का वित्तीय एवं भौतिक समीक्षा करते हुए उपायुक्त ने कई आवश्यक निर्देश दिए. उन्होंने गर्भवती महिलाओं के पंजीकरण, एचआइवी जांच, ससमय आयरन की गोली देने, संस्थागत प्रसव व होम डिलीवरी, टीवी, वीएचएनडी कार्यक्रम की समीक्षा कर कई निर्देश दिया. संस्थागत प्रसव बढ़ाने पर बल देते हुए उपायुक्त ने वैसे क्षेत्रों को चिंहित करने का निर्देश दिया, जहां संस्थागत प्रसव का प्रतिशत कम है. बैठक में गर्भवती महिलाओं का एएनसी शत-प्रतिशत करने का निर्देश भी दिया गया। उन्होंने सभी एएनसी में गर्भवती महिलाओं के हिमोग्लोबिन की जांच निश्चित रूप से करने का निर्देसबश दिया. सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में बेहतर चिकित्सा व्यवस्था मुहैया कराने हेतु उन्होंने विचार विमर्श किया.  साथ ही, वैसे स्वास्थ्य केंद्र जिनकी स्थिति काफी जर्जर है एवं पहुंचपथ दयनीय है, उन स्वास्थ्य केंद्रों को चिन्हित कर उसकी सूची उपलब्ध कराने को कहा. समीक्षा क्रम मे उपायुक्त ने कहा लो बर्थ बेबीस को चिन्हित कर एमटीसी में एडमिट कराएं ताकि बच्चे का उचित देखभाल हो सकें। वहीं अभियान चलाकर यक्षमा, कुष्ट रोगियों की पहचान करने तथा यक्षमा के चिन्हित मरीजों का शुगर, रक्तचाप एवं एचआईवी जाँच सुनिश्चित करने को कहा. उन्होंने ग्राम स्वास्थ्य एवं पोषण दिवस पर सभी महिलाओं और किशोरीयों का स्वास्थ्य जाँच कराने का निर्देश दिया. समीक्षा क्रम मे उन्होंने सभी मेडिकल ऑफिसर्स को सभी विद्यालयों का निरीक्षण कर राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम एवं स्कूल हेल्थ एंड वैलनेस प्रोग्राम के तहत विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करने, आंख जांच कर बच्चों एवं परिजनों को निशुल्क चश्मा वितरण करने, मिशन इंद्रधनुष 5.0 के दूसरे चरण मे भी शत-प्रतिशत बच्चों एवं महिलाओं के छूटे हुए टीकाकरण सुनिश्चित करने, आइडिया/एमडीए के तहत सभी दवाईयां ससमय वितरण करने (अपनें समक्ष खिलाने) का निर्देश दिया. ड्रग इंस्पेक्टर को सभी दवा खाना एवं क्लिनिक का औचक निरीक्षण कर प्रतिबंधित दवाइयां की बिक्री पर रोक लगाने तथा अच्छी/सही दवाएं उचित मूल्य पर आम जनों को मिले यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने भ्रूण हत्या रोकने के उद्देश्य से विभिन्न अल्ट्रासाउंड केन्द्रो का औचक निरीक्षण करने, अवैध तरीके से संचालित केंद्रों पर नियम संगत कार्रवाई करने तथा वैध केन्द्रो पर शिशुओ का लिंग जाँच ना हो यह सुनिश्चित करने को कहा. बैठक में मुख्य रूप से सिविल सर्जन डॉ0 अजय सिन्हा, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी शिप्रा सिन्हा, डीपीएम एनआरएलएम, सभी एमओआईसी, बीपीओ एवं सभी चिकित्सा पदाधिकारी उपस्थित थे.
Post a Comment

Post a Comment