-->
yrDJooVjUUVjPPmgydgdYJNMEAXQXw13gYAIRnOQ
Bookmark

अप्रैल माह से नहीं लंबित है पोटका और कोवाली के 223 किसानों के धान अधिप्राप्ति की दूसरी किस्त की राशि Amount of second installment of paddy procurement of 223 farmers of Potka and Kovali is not pending since April


भाजपा नेता सह पोटका विधानसभा प्रभारी उपेन्द्र नाथ  सरदार ने उपायुक्त से शीघ्र भुगतान करने की मांग की, अन्यथा आंदोलन  की दी चेतावनी
जादूगोड़ा : पूर्वी सिंहभूम के पोटका और कोवाली में 223 किसानों को धान अधिप्राप्ति की दूसरी किस्त की राशि विगत अप्रैल माह से लंबित है. धान अधिप्राप्ति की दूसरी किस्त के भुगतान को लेकर हो रही देरी को लेकर प्रतिदिन दर्जनों किसान पोटका लैम्प्स कार्यालय का चक्कर लगा रहे है और वे लैम्प्स सचिव से गुहार लगाकर निराश लौट रहे हैं. इस मामले को भाजपा नेता सह पोटका विधानसभा प्रभारी उपेन्द्र नाथ सरदार ने गंभीरता से लेते हुए उपायुक्त से शीघ्र मामले को संज्ञान में लेकर किसानों के दूसरी किस्त की राशि भुगतान करवाने की मांग किया है। जल्द भुगतान नही होने पर उनके द्वारा आंदोलन की चेतावनी दी गई है. इस बाबत पोटका लैम्प्स के सचिव खुदी राम बेसरा ने कहा कि उनके यहां 141 किसानों ने हजारों क्विंटल धान जमा किया था जिनके पहली किस्त का भुगतान समय पर हुआ. जबकि दूसरी किस्त की राशि अप्रैल महीने से बकाया है. उन्होंने कहा कि जल्द ही इस बाबत उपायुक्त को सूचित कर भुगतान का आग्रह किया जाएगा. उन्होंने जानकारी देते हुए बताया कि पोटका लैम्प्स से किसानों की दी गई धान को जादूगोड़ा के  शक्ति राइस मिल समेत पोटका के किंग राइस मिल में आपूर्ति की जाती है. वहां से चावल तैयार कर झारखंड स्टेट फूड कार्पोरेशन कदमा भेजा जाता है. अंत में पीडीएस दुकानों में आपूर्ति कर गरीब परिवारों को बांटा जाता है. जिसका भुगतान न होने से किसान आक्रोशित है. इसी प्रकार, कोवाली लैम्प्स सचिव कैलाश भकत ने बताया कि उनके लैम्प्स में 82 किसानों ने धान जमा किया था जिनके दूसरी किस्त की राशि बकाया है. इसको लेकर किसान भुगतान न होने हैरान व परेशान है. इस ओर सरकार को ध्यान देने की जरूरत है.
Post a Comment

Post a Comment